ये 5 तरीके राज कॉमिक्स को अपने बिजनेस को इंप्रूव करने के लिए जरूर उठाने चाहिए।

1
55

अगर हम आज से कुछ 30 साल पहले की बात करे तो हिंदुस्तान में COMICS से कोई अनजान नहीं था। हमारे देश में लगभग 50 से ज्यादा COMICS कंपनिया अस्तित्व में थी और सभी अपने अपने कंटेंट से लोगो का मनोरंजन करती थी। शुरुआत में लोक कथाओ और नॉवेल जैसे कंटेंट पर COMICS आया करती थी। लेकिन यहां RAJ COMICS ने एक कदम आगे बढ़कर सुपरहीरो थीम पर COMICS निकालना शुरू किया जिसको कि लोगो ने बहुत पसंद किया। उस वक्त तक भारतीय COMICS में फैंटम, मेंड्रैक, चाचा चौधरी जैसे सुपरहीरोज COMICS आया करती थी। लेकिन RAJ COMICS ने अपने सुपरहीरोज को बेहतरीन कहानियों और चित्रों के साथ कुछ इस तरह पेश किया कि लोग इनके दीवाने हो गए। देखा देखी में दूसरी COMICS कंपनियों ने भी सुपरहीरो थीम पर COMICS निकालना शुरू की लेकिन जंबू, अंगारा, तौसी, क्रुकबांड और सिकंदर के अलावा ज्यादातर नाम लोगो के लिए अनजाने ही रहे। अपने गोल्डन पीरियड में RAJ COMICS ने काफी प्रगति की। बाकी सभी कंपनियों को प्रतिस्पर्धा से बाहर करके RAJ COMICS ने लगभग भारतीय COMICS इंडस्ट्री पर अपना एकाधिकार जमा लिया। हालांकि कुछ COMICS कंपनीया अभी भी मैदान में प्रतिस्पर्धा कर रही थी जैसे कि डायमंड COMICS , तुलसी COMICS और मनोज COMICS ।

लेकिन दुनिया टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में लगातार आगे बढ़ रही थी। ये दौर टेलीविजन का था। पहले टेलीविजन पर सिर्फ दूरदर्शन चैनल था जिसका भारतीय टेलीविजन इंडस्ट्री पर अपने तरह का एकाधिकार था। टेक्नोलॉजी के उदारीकरण के बाद टेलीविजन पर अलग अलग जॉनर के चैनल्स आने लगे, जैसे कि सीरियल चैनल्स, मूवी चैनल्स, म्यूजिक चैनल्स आदि। इन सभी चैनल्स ने लोगो को मनोरंजन के ओर विकल्प प्रदान किए जिसकी वजह से COMICS कंपनियों कुछ परेशानी हुई। लेकिन फिर भी इसका ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ा क्यूंकि उनका अपना फैनबेस था। RAJ COMICS ने भी उस जेनरेशन के बच्चो और युवाओं को पूरी तरह जोड़ लिया था। इसी तरह साल 2000 तक भी COMICS कंपनियां अच्छी तरह से अपना बिजनेस कर रही थी। लेकिन असली प्रतिस्पर्धा शुरू हुई जब टेलीविजन पर पूरे के पूरे कार्टून चैनल्स ही गए। पूरा दिन कार्टून सीरियल आने की वजह से इन चैनल्स ने बच्चो को जबरदस्त आकर्षित किया। अगली पीढ़ी को जब घर पर ही मनोरंजन के लिए कार्टून मिलने लगे तो उनको COMICS की जरूरत महसूस नहीं हुई। रही सही कसर 2008 के बाद इंटरनेट क्रांति ने भी पूरी कर दी। इंटरनेट ने लोगो के सामने पूरी दुनिया ही खोलकर रख दी। इंटरनेट ने सारी चीज़ों को पहले कंप्यूटर ओर फिर मोबाइल में उतार दिया। और आज की ये बात है कि लोगो से कोई चीज छुपी नहीं है। सिर्फ कुछ क्लिक करने से उनको अपनी मर्जी का कंटेंट मिल जाता हैं। जब लोगो के पास विकल्प ज्यादा हो तो उस बीच अपने लिए जगह बनाना थोड़ा मुश्किल हो जाता है लेकिन नामुमकिन बिल्कुल भी नहीं।

हम यहां COMICS इंडस्ट्री और RAJ COMICS पब्लिकेशंस की बात कर रहे हैं क्यूंकि इतनी प्रतिस्पर्धा में भी इसने अपने आपको जीवित रखा है। और यहां तक अपने आपको बनाए रखने का मतलब है कि उसके पास आगे बढ़ने के पूरे मौके हैं। अगर आगे मिलने वाले मौकों को RAJ COMICS ने भुनाया तो हम RAJ COMICS का बेहतरीन भविष्य देख सकते हैं।

हम यहां उन 5 चीज़ों का जिक्र करेंगे जिन पर RAJ COMICS या कोई भी COMICS कंपनी एक बार जरूर विचार कर सकती हैं।

1. बेसिक जगह पर फोकस करके

Raj Comics news in Hindi – Raj Comics Mobile Application

RAJ COMICS ने अपने आपको टेक्नोलॉजी के हिसाब से अपग्रेड किया है। उनकी वेबसाइट हैं और मोबाइल एप्लीकेशन भी लोगो के लिए उपलब्ध हैं जिससे लोग जब चाहे जितनी चाहे COMICS पढ़ सकते है। लेकिन ओर लोगो को इन तक लाने के लिए RAJ COMICS को एक्स्ट्रा एफर्ट लगाना होगा।

RAJ COMICS को अपनी वेबसाइट पर फैन डिस्कशन फोरम फिर से शुरू करना चाहिए ताकि वहां एल ज्यादा से ज्यादा लोग जुड़े और COMICS के ऊपर बात कर सके। RAJ COMICS अपने फैन डिस्कशन फोरम को गूगल एडसेंस से कनेक्ट करके भी कुछ वित्तीय सहायता जुटा सकता हैं जिससे कि अपने सोशल मीडिया के खर्चों को आसानी से निकाल सके। RAJ COMICS को अपनी एप्लीकेशन पर भी यूजर की राय लेनी चाहिए। जहां तक मेरा मानना है मोबाइल एप्लीकेशन थोड़ा ओर यूजर फ्रेंडली हो सकता है। जब ये दोनों चीजे बेहतर होगी तो पुरानो के साथ साथ नए रीडर्स भी अपने आपको COMICS से जोड़ पाएंगे। और अगर यहां RAJ COMICS अच्छा करती हैं तो इन लोगो को अपने पास रोककर भी रख सकती हैं।

इंटरनेट वेबसाइट्स पर आज लोगो की भीड़ वहा जुटती है जहां का कंटेंट अच्छा होता है और रोज अपडेट होता हैं। RAJ COMICS इन वेबसाइट से कॉन्ट्रैक्ट करके अपनी कुछ COMICS को फ्री पब्लिश करवा सकती हैं और लोगो को आकर्षित कर सकती हैं। इससे RAJ COMICS को ये फायदा होगा कि वहां से उन्हें नए और पुराने दोनों तरह के लोग मिलेंगे। RAJ COMICS को भी अभी ज्यादा से ज्यादा लोगो से जुड़ना हैं। उन्हें नई जेनेरेशन में अपनी उपस्थिति दर्ज करवानी हैं तो काम ये किया सकता हैं। इसके अलावा RAJ COMICS को इंटरनेट के उस हर माध्यम पर नजर रखनी चाहिए जिससे लोग जुड़े हुए हैं। RAJ COMICS जितना अपने आपको लोगो के सामने पेश करेगा वो लोगो की नजरो में आता जाएगा जिसका उसे फायदा अपनी प्रिंट और E-COMICS में मिलेगा।

2. कार्टून सीरीज को हां और मूवीज या वेब सीरीज को ना।

Raj Comics news in Hindi – Motu Patlu

हम व्यक्तिगत रूप से मानते हैं कि RAJ COMICS को अभी मूवी या वेब सीरीज पर काम नहीं करना चाहिए और इसका कारण भी हैं। पहला तो ये की RAJ COMICS अगर अपने सुपरहीरोज पर मूवी या वेब सीरीज बनाने की कोशिश करती हैं उनको वीएफएक्स पर बहुत खर्च करना पड़ेगा जो कि हमारे देश में अभी काफी महंगा हैं। हमारे देश के फिल्मकार भी इन वीएफएक्स के खर्चों को उठा नहीं पाते तो ऐसे में RAJ COMICS के लिए भी ये काफी महंगा ओर नुकसान उठाने वाला कदम हो सकता है। और खराब वीएफएक्स इस्तेमाल करने से दर्शकों को मज़ा नहीं आएगा क्यूंकि उन्होंने पहले से ही काफी एक्सपेक्टेशन लगा रखी होगी। ऐसे में उन्हें निराश करने से बेहतर हैं कि ऐसा काम किया ही ना जाए।

लेकिन बात अगर कार्टून सीरीज कि की जाए तो हम ये मानते हैं कि RAJ COMICS पूरे भारत की कार्टून इंडस्ट्री पर राज करने का माद्दा रखती हैं। डायमंड COMICS ने भी समय रहते अपने दो किरदार मोटू पतलू को अपग्रेड किया और आज उसका नतीजा ये हैं कि दोनों किरदारों को पूरा भारत जानता हैं। RAJ COMICS को सबसे पहले अपनी ऑडियंस को टारगेट करना चाहिए ओर वो यकीनन बच्चे ही हैं। अपने कॉमिक सुपरहीरोज को कार्टून चैनल्स पर लाने के लिए RAJ COMICS को किसी स्ट्रगलिंग कार्टून चैनल को पकड़ना चाहिए और इस पर डील करनी चाहिए। यहां नागराज और सुपर कमांडो ध्रुव की कुछ कार्टून सीरीज पर कॉन्ट्रैक्ट किया जा सकता है। हमें पूरा यकीन है कि एक बार हमारे सुपरहीरोज टीवी पर गए तो बाकी सभी कार्टून चैनल्स की छुट्टी हो जाएगी। हालांकि कार्टून ब्रॉडकास्ट करवाना कोई मामूली काम नहीं। इसमें भी काफी टेक्निकल लोग लगेंगे, चैनल वालों के साथ प्रसारण अधिकार, कॉपीराइट, प्रॉफिट आदि जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर बात करनी होगी। लेकिन मेरा ये मानना है कि कुछ नया करने के लिए थोड़ा बहुत कॉम्प्रोमाइज तो करना ही पड़ेगा। लेकिन अगर उससे कंपनी को लॉन्ग रन में फायदा होता हैं कंपनी अपने आगे के लक्ष्य को अच्छी तरह लेकर चल सकती हैं। कम से कम इसमें किसी तरह की वित्तीय समस्याओं का सामना RAJ COMICS को नहीं करना पड़ेगा।

यहां एक काम ओर RAJ COMICS कर सकती हैं कि अपने सुपरहीरोज की कार्टून सीरीज नेटफ्लिक्स, अमेज़न या इस तरह के प्लेटफॉर्म पर भी रिलीज कराये जहां कंटेंट की मैच्योरिटी पर कोई फर्क नहीं पड़ता, जैसा कि अगर डोगा की COMICS में होता है। काफी सारे स्वतंत्र फिल्ममेकर अपनी मूवीज को ऐसे प्लेटफॉर्म पर रिलीज कर रहे हैं और उनसे अच्छा प्रॉफिट कमा रहे हैं। अगर RAJ COMICS इस दिशा में आगे बढ़े तो इतना तो हमे यकीन है कि हमारे COMICS के जुनूनी फैंस ही नेटफ्लिक्स या अमेज़न को इतना प्रॉफिट दे देंगे कि RAJ COMICS बाद में अपनी शर्तो पर ऐसे प्लेटफॉर्म से कॉन्ट्रैक्ट कर सकती हैं और यकीनन इसमें दोनों का फायदा हैं। लेकिन मूवीज या वेब सीरीज पर अभी काम करने से बचना चाहिए क्यूंकि अभी इसका सही समय नहीं आया है।

3. नए प्रोडक्ट और उनकी मार्केटिंग

Raj Comics news in Hindi – Marketing Logo

अगर हम स्टेप बाय स्टेप चले तो ये मान सकते हैं कि RAJ COMICS अपने सुपरहीरोज को कार्टून के रूप में लोगो तक पहुंचा चुकी है और अब ये माना जा सकता है की लोग हमारे कॉमिक सुपरहीरोज को जानने ओर पसंद करने लगे हैं। अब यहां RAJ COMICS को कुछ नए प्रोडक्ट में अपना हाथ आजमाना चाहिए जैसे कि बच्चो के स्कूल बैग, स्टेशनरी आइटम, खिलौने, गेजेट्स, वीडियो गेम्स आदि। ये सभी चीजें हमारे कॉमिक सुपरहीरोज की मौजूदगी को लोगो में ज्यादा पुख्ता करेगी। इन चीजों को लोगो तक पहुंचाने के लिए अच्छी मार्केटिंग करनी होगी ताकि ये ज्यादा से ज्यादा लोगो को दिखाई दे। अब मार्केटिंग फिल्ड के लोग जानते हैं कि अपने प्रोडक्ट की सेल बढ़ाने का सबसे बेहतर तरीका है कि अपने प्रोडक्ट को ज्यादा से ज्यादा लोगो को दिखाना क्यूंकि मार्केटिंग का यही फंडा हैं कि जो दिखता है वो बिकता हैं। RAJ COMICS को इस बिंदु पर विचार करना चाहिए।

मार्केटिंग का एक तरीका जो मुझे अभी भारतीय दृष्टिकोण से सही लगता है कि RAJ COMICS को देशी सुपरहीरोज और विदेशी सुपरहीरोज जैसा कुछ कॉन्सेप्ट उठाना चाहिए ताकि लोग भी हमारे देश के कार्टून को ज्यादा प्राथमिकता दे। ये बिल्कुल वेसा ही हैं जैसा की बाबा रामदेव ने अपने उत्पादों को देशी बताकर लोगो तक पहुंचाया और लोगो ने भी इसे हाथो हाथ लिया। हम यहां उम्मीद कर सकते हैं कि ऐसा ही कुछ RAJ COMICS भी करे।

4. YouTube पॉडकास्ट

Youtube Logo

राज कॉमिक्स को YouTube जैसे प्लेटफॉर्म को आज के समय में बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। यहां किसी प्रोडक्ट की जो फ्री मार्केटिंग की जा सकती हैं वो ओर कहीं नहीं। क्यूंकि यहां पूरी दुनिया अपना समय व्यतीत कर रही हैं इसलिए YouTube के माध्यम से लोगो तक पहुंचना आसान है। आप यकीन नहीं करेंगे कि दुनिया की सबसे बड़ी रेसलिंग कंपनी WWE के फैंस YouTube पर अपना रेसलिंग न्यूज शो चलाते हैं जिसकी इन YouTubers की रोजी रोटी चले रही हैं। और इनके पॉडकास्ट शोज की वजह से WWE को भी फायदा हो रहा है। कुछ इसी तरह राज कॉमिक्स को भी चाहिए कि वो अपना डेली या वीकली पॉडकास्ट YouTube पर लाये जिसमें वो अपने कॉमिक्स कंटेंट और अपने कॉमिक्स सुपरहीरोज को लेकर बात कर सके और जहां नई कॉमिक्स का अच्छे से प्रोमोशन कर सके। अगर इस तरह के पॉडकास्ट को अच्छे और मजेदार तरह से बनाया गया तो यकीनन यहां से राज कॉमिक्स को यहां से बहुत सारे नए ओर पुराने व्यूअर्स मिलेंगे जो कि उनके बिजनेस के लिए बहुत लाभदायक सिद्ध होंगे। यहां ऑफिशियली राज कॉमिक्स के होने की वजह से लोग भी उनसे जल्दी और ज्यादा जुड़ेंगे। ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुंचने के लिए राज कॉमिक्स हमारे देश के कुछ पॉपुलर YouTuber से कॉन्टैक्ट कर सकती हैं जो कि इसमें उनकी बहुत अच्छी तरह से मदद कर सकते हैं।

1. पहले की तरह हर महीने का कॉमिक्स सेट और सभी सुपरहीरोज की नई कॉमिक्स लाकर।

Raj Comics news in Hindi – All Superheroes

एक बात तो RAJ COMICS भी समझती हैं और फैंस भी जानते हैं कि लोगो के पास पुरानी COMICS नहीं है जिसको वे पढ़ना चाहते हैं। इसीलिए RAJ COMICS उन पुरानी COMICS को फिर से रीप्रिंट करवाकर लोगो तक पहुंचा रही हैं जो कि एक अच्छा कदम हैं। लेकिन RAJ COMICS को यहां दूसरे सुपरहीरोज की नई COMICS भी निकालनी चाहिए। अभी सिर्फ नागराज, ध्रुव, डोगा और बांकेलाल की COMICS ही रेगुलर आ रही हैं। बाकी सुपरहीरोज की COMICS की संख्या काफी कम है। लेकिन अगर इस प्रकार आगे बढ़ने से हमारे बच्चे हुए उन COMICS सुपरहीरोज को नुकसान होगा जिनको RAJ COMICS ने बड़ी मेहनत से तैयार किया है। यहां RAJ COMICS को पहले की तरह ही नागराज की COMICS सेट के साथ डोगा, स्टील, गमराज, और फाइटर टोड्स कि COMICS को निकालनी चाहिए और ध्रुव की COMICS सेट के साथ परमाणु, शक्ति, बांकेलाल और एंथोनी की COMICS निकालनी चाहिए। RAJ COMICS चाहे तो डोगा-स्टील की COMICS को बाइंड करके लोगो तक पहुंचा सकती हैं। इसी तरह बाकी सुपरहीरोज की COMICS भी बाइंड करके पेश किया जा सकता है। इसके साथ ही पुरानी रीप्रिंट COMICS तो हैं ही। प्रयोग करने में वैसे कोई बुराई नहीं है, अगर COMICS की कहानी और चित्र अच्छे होंगे तो लोग इन COMICS को जरूर खरीदेंगे और हमारे इन सुपरहीरोज की नई COMICS भी रेगुलर लोगो तक पहुंच पाएगी। ये RAJ COMICS जरूर विचार कर सकती हैं।

नोट –

इस आर्टिकल में दिए गए सभी सुझावों का सिर्फ एक ही उद्देश्य है कि RAJ COMICS बहुत बहुत तरक्की करे और हम भी उसे नीत नये आयाम छूता देखे ताकि हम ओर अच्छी तरह से RAJ COMICS का आनंद ले पाए।

आपको हमारा आर्टिकल कैसा लगा? कमेंट सेक्शन में अपनी राय दे और हमारे पेज पर रेगुलर विजिट करते रहिए ताकि आपको इसी तरह उपयोगी जानकारी मिलती रहे।

Raj Comics के 5 सुपर विलेन जिन्हे बार बार कॉमिक्स में देखा गया और अब उन्हें कुछ समय के लिए आराम देना चाहिए।

Raj Comics में सुपरहीरोज के 5 बेस्ट गेस्ट अपीयरेंस

अपने खूनी इतिहास के बाद कैसे अलग हुए कोबी और भेड़िया। जानिए Raj Comics के सबसे ताकतवर सुपरहीरो की पूरी कहानी। पार्ट – 2 

जंगल के जल्लाद, कोबी के खुनी इतिहास के बारे में आप ये बात नहीं जानते होंगे।जानिए Raj Comics के सबसे ताकतवर सुपरहीरो की पूरी कहानी। पार्ट – 1

जब जान बचाते चिल्लाते भागे परमाणु और शक्ति, Raj Comics कीबचाओ बचाओकरने वाली अनोखी कॉमिक्स।

जानिए Raj Comics की इस महिला सुपरहीरोशक्तिके बारे में सब कुछ।

5 मौके जब Raj Comics के सुपरहीरोज बहुत पिटाई हुई।

कानून का रखवाला, फर्ज की मशीन, Raj Comics का इंस्पेक्टर स्टील।

Raj Comics और Super Commando Dhruva की बालचरित श्रंखला का सुखद अंत?

Raj Comics के ब्रह्मांड रक्षकों से जुड़े कुछ यादगार पल।

Super Commando dhruva के वो 5 पल, जब दिमाग का इस्तेमाल कर उसने अपने दुश्मनों को दी शिकस्त।

30Shares

1 COMMENT

  1. राज कॉमिक्स को अपने ग्रुप में ग्राहक नहीं बल्कि चमचे चाहिए । ज़रा सी बुराई कर दो या कोई कमी बताओ तो आप को तुरंत बैन कर दिया जाता है । महाघटिया public relation है इनका

Leave a Reply